संसद: 18 नवंबर से 13 दिसंबर के बीच बुलाया जा सकता है शीतकालीन सत्र, इन अध्यादेशों को पास करना चाहेगी मोदी सरकार

2019-10-17_ParliamentSession.jpg

संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से 13 दिसंबर के बीच हो सकता है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में संसदीय मामलों की कैबिनेट कमेटी की बैठक बुधवार को हुई, जिसमें संसद के शीतकालीन सत्र की तिथि और रणनीति पर चर्चा की गई. सरकार ने हालांकि अभी तिथि की घोषणा नहीं की है, लेकिन सूत्र बताते हैं कि शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से 13 दिसंबर के बीच हो सकता है.

मोदी सरकार के लिए यह सत्र काफी अहम रहेगा, क्योंकि इसमें दो महत्वपूर्ण अध्यादेशों को कानून बनाने की कोशिश होगी. दो साल से शीतकालीन सत्र 21 नवंबर को शुरू होता रहा है और जनवरी के पहले हफ्ते तक जारी रहता आया है.

मोदी सरकार इनकम टैक्स एक्ट 1961 और फाइनेंस एक्ट 2019 पर अध्यादेश ला चुकी है. आगामी सत्र में इन अध्‍यादेशों पर फैसला हो सकता है. सरकार इस कदम से नए और देशी मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को राहत देना चाहती है. इनकम टैक्स को लेकर सितंबर महीने में लाया गया अध्यादेश इसी से जुड़ा है. दूसरा अध्यादेश ई-सिगरेट और इससे जुड़े उपकरणों के निर्माण, स्टोरेज और बिक्री से जुड़ा है. आगामी सत्र में इस पर भी सरकार कानून बना सकती है.
 



loading...