IPL 2018: कोलकाता नाइटराइडर्स ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 4 विकेट से हराया

India Vs West Indies 3rd ODI: सीरीज पर कब्ज़ा करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया, ये हो सकती हैं प्लेइंग इलेवन

सेमीफाइनल में हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी के बैटिंग ऑर्डर पर पहली बार बोले कोच रवि शास्त्री

CWC 2019: टीम इंडिया की हार पर दिग्गजों ने उठाए सवाल, धोनी को सातवें नंबर पर भेजना बताया सबसे बड़ी गलती

World Cup 2019: भारत को खली नंबर 4 बल्लेबाज की कमी, जानिए इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया कहां सफल रही और कहां नाकाम हुई

World Cup 2019 IND Vs NZ: भारत की नैया डगमगाई, हार्दिक पांड्या भी हुए आउट

World Cup 2019: इंडिया-न्यूजीलैंड मुकाबले पर इंद्रदेव की नजर, बिना सेमीफाइनल खेले ही फाइनल में पहुंच जाएगा भारत, ये है पूरा माजरा

2018-04-09_vivo-ipl-2018-kkr.JPG

सुनील नरेन (50) की तूफानी पारी के बाद अपने नए कप्तान दिनेश कार्तिक (नाबाद 35) की जिम्मेदारी भरी पारी के दम पर कोलकाता ने रविवार को ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले गए इंडियन टी-20 लीग के 11वें संस्करण के मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को चार विकेट से हरा दिया. बेंगलोर ने कोलकाता के सामने 177 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे इस पूर्व विजेता ने अपने घर में खेलते हुए 18.5 ओवरों में छह विकेट खोकर हासिल कर लिया. कोलकाता ने सुनील नरेन को क्रिस लिन के साथ पारी की शुरुआत करने के लिए भेजा था. उन्होंने सौंपी गई जिम्मेदारी को सही ठहराया और महज 19 गेंदों में चार चौके तथा पांच छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली. हालांकि लिन कुछ खास नहीं कर सके और पांच रन के निजी स्कोर पर क्रिस वोक्स का शिकार बने.

नरेन को उमेश यादव ने 69 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेजा. उप-कप्तान रोबिन उथप्पा (13) को भी उमेश ने 83 के कुल स्कोर पर अपना शिकार बनाया. इसके बाद नितीश राणा ने 25 गेंदों में दो चौके और इतने की छक्के लगाकर 34 रनों की पारी खेल टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचा दिया. राणा ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए. इसके बाद कार्तिक ने अंत में एक छोर संभाले रखा और टीम को जीत दिला कर ही पवेलियन लौटे. उन्होंने अपनी नाबाद पारी में 29 गेंदों का सामना किया और चार चौके लगाए. बैंगलोर की तरफ से क्रिस वॉक्स ने तीन विकेट लिए. उमेश को दो सफलताएं मिलीं जबकि सुंदर को एक विकेट मिला.

इससे पहले, कोलकाता ने टॉस जीतकर बैंगलोर को बल्लेबाजी के आमंत्रित किया. बैंगलोर ने सलामी बल्लेबाज ब्रेंडन मैक्कुलम (43), एबी डिविलियर्स (44) के बाद अंतिम ओवरों में मनदीप सिंह (37) की तेजतर्रार पारी के दम पर 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 176 रन बनाए. मैक्कुलम और डिविलियर्स के जाने के बाद लग रहा था कि बैंगलोर की टीम बड़ा स्कोर नहीं कर पाएगी, लेकिन मनदीप ने 18 गेंदों पर चार चौके और दो छक्कों की मदद से 37 रन बनाते हुए टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर दिया.

मैक्कुलम ने अपनी पारी में 27 गेंदों का सामना किया और छह चौके तथा दो छक्के लगाए. वह 63 के कुल स्कोर पर नरेन की गेंद पर बोल्ड हो गए. उनके साथ पारी की शुरुआत करने आए क्विंटन डी कॉक चार रन ही बना सके और पीयूष चावला की गेंद पर 18 के कुल स्कोर पर विनय कुमार को कैच दे बैठे. मैक्कुलम के बाद डिविलियर्स ने कोलकाता के गेंदबाजों को चैन नहीं लेने दिया. दूसरे छोर पर खड़े कोहली ने समझदारी भरी पारी खेली और बार-बार स्ट्राइक डिविलियर्स को देते रहे। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 64 रन जोड़े.

डिविलियर्स को राणा ने अपना शिकार बनाया. उन्होंने 23 गेंदें खेलीं और पांच शानदार छक्कों के अलावा एक चौका लगाया. डिविलियर्स के जाने के तुरंत बाद कोहली भी पवेलियन लौट लिए. 33 गेंदों में एक चौका और छक्के की मदद से 31 रन बनाने वाले कोहली को राणा ने बोल्ड किया. डिविलियर्स और कोहली 127 के कुल स्कोर पर आउट हुए. यहां लग रहा था कि बैंगलोर की टीम बड़े स्कोर से महरूम रह जाएगी, लेकिन मनदीप ने ऐसा नहीं होने दिया. वह आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर आउट हुए. कोलकाता के लिए नितीश राणा ने दो विकेट लिए. पीयूष चावला, सुनिल नरेन, मिशेल जॉनसन को एक-एक सफलता मिली.



loading...