भारी बारिश से यूपी बेहाल, अब तक 55 लोगों की मौत, लखनऊ में आज स्कूल बंद

योगी सरकार ने सरकारी राशन की दुकानों पर कंडोम और सैनेटरी पैड बेचने की दी अनुमति

Ayodhya Verdict: हम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं लेकिन हम इस फैसले से संतुष्ट नहीं हैं: जफरयाब जिलानी

Ayodhya Verdict: इकबाल अंसारी ने कहा- सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा उसका सम्मान करेंगे, हिन्दू-मुस्लिम विवाद खत्म हो जाएगा

अयोध्या पर फैसले से पहले CJI रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और DGP के साथ की बैठक

गेस्ट हाउस कांड में मुलायम सिंह के खिलाफ केस वापस लेंगी बसपा अध्यक्ष मायावती

यूपी: योगी सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई, 7 पीपीएस अधिकारियों को किया जबरन रिटायर

2019-09-28_RainFallUP.jpg

उत्तर प्रदेश में लगातार तीन दिन से मूसलाधार बारिश अब जानलेवा साबित होने लगी है. सूबे में बारिश से गांवों में बड़े पैमाने पर कच्चे और जर्जर मकान व पेड़ धराशायी हो गए. जिनमें दबकर 55 लोगों की मौत हो गई. पिछले चौबीस घंटे में अवध क्षेत्र में 15, प्रयागराज में 14 पूर्वांचल में 17, बुंदेलखंड में 7, सहारनपुर और कानपुर में एक-एक व्यक्ति ने जान गंवाई है. उधर, लगातार बारिश को देखते हुए लखनऊ जिला प्रशासन ने आज भी इंटर तक के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है.

अवध क्षेत्र में सबसे ज्यादा नुकसान अमेठी जिले में हुआ जहां दीवारें गिरने से एक दंपती समेत सात लोगों की मौत हो गई. जबकि बाराबंकी में तीन, अंबेडकरनगर में दो और सीतापुर, अयोध्या व रायबरेली में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई. वहीं रुदौली, मिल्कीपुर, अमानीगंज, पटरंगा में दीवार व घर ढहने से लोगों के घायल होने की सूचना है.

प्रयागराज और आसपास के जिलों में सैकड़ों घर गिर गए हैं. यहां प्रतापगढ़ में घर के मलबे में दबने से नौ लोगों की मौत हो गई, जबकि 25 से भी अधिक लोग घायल हो गए. गुरुवार रात से शुक्रवार शाम तक लगातार बारिश होने से सरकारी दफ्तरों, स्कूलों और घरों में पानी घुस गया. कौशाम्बी के सिराथू में दीवार ढहने से किशोर न्याय बोर्ड के पीठासीन अध्यक्ष विनय मिश्रा की मौत हो गई, जबकि प्रयागराज के मऊआईमा व हंडिया में कच्चे मकान ढहने से तीन लोगों की मौत हो गई.

पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में लगातार दूसरे दिन शुक्रवार को भी बारिश के चलते चलते 160 से अधिक कच्चे मकान गिर गए. इसके मलबे में दबने से 13 लोगों की जान चली गई. मरने वालों में चंदौली में मां और दो बेटों समेत पांच, भदोही में दंपती समेत तीन, वाराणसी में तीन तथा आजमगढ़-जौनपुर में एक-एक ने जान गंवाई. कई जिलों में बिजली आपूर्ति ठप रही.

वहीं, शनिवार को मिर्जापुर शहर कोतवाली इलाके के घंटाघर मोहल्ले में शनिवार की भोर में मूसलाधार बारिश के चलते एक मकान भरभराकर गिर गया. जिसमें दबकर बुजुर्ग दंपती और उनके पुत्र की मौत हो गई. वहीं, बलिया के बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के रघुबर नगर में शनिवार को कच्चा घर गिर गया. घर में सोईं मां और तीन बच्चे घायल हो गए. घायलों को अस्पताल में ले जाया गया. यहां डॉक्टरों ने एक को मृत घोषित कर दिया, घायलों का इलाज चल रहा है.


 


 



loading...