अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस में रतुल पुरी की रिमांड बढ़ी, अब 16 सितंबर को होगी पेशी

2019-09-11_RatulPuri.jpeg

दिल्ली की एक विशेष अदालत ने बिजनेसमैन रतुल पुरी को अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस में 5 दिन की ED (प्रवर्तन निदेशालय) की रिमांड पर भेज दिया है. इससे पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को दिल्ली की राउस एवेन्यू कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा था. अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने बिजनेसमैन रतुल पुरी की सरेंडर करने की याचिका पर सुनवाई करते हुए तिहाड़ जेल के सुपरिटेंडेंट को 3 बजे रतुल पुरी को कोर्ट में पेश करने का आदेश देते हुए प्रोटक्शन वारंट जारी किया था. कोर्ट ने पुरी की सरेंडर याचिका पर बुधवार को फैसला सुनाया.

अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर सौदा दलाली मामले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच का सामना कर रहे रतुल पुरी की ED ने 8 दिन की रिमांड और मांगी, साथ ही ईडी की तरफ से हिरासत में रतुल पुरी की दोस्त नेयमत बक्षी के मिलने पर भी एतराज जताया गया था. सुनवाई के दौरान ED के वकील डीपी सिंह ने कहा कि नेयमत बक्षी रतुल पुरी की दोस्त हैं लेकिन फिलहाल मामले में वो भी संदिग्ध है.

रेड के दौरान कुछ अहम कागजात मिले थे. रतुल पुरी को मामले में एक अहम गवाह केके खोसला से आमना-सामना कराना है, लेकिन खोसला मिल नहीं रहा है. विजय अग्रवाल- ईडी फिर से 8 दिन की रिमांड मांग रहे हैं, जो कागज ईडी ये कहकर दिखा रहे हैं कि पुरी के यहां से मिले, हम तो उन दस्तावेजों को देख नहीं सकते.
 



loading...